-->

Qul Huwallahu Ahad Surah in Hindi | सूरह इखलास हिंदी में | Surah Al-Ikhlaas

Surah Ikhlaas Hindi Me, कुरआन मजीद की 112वीं सूरत है। Qul Huwallahu Ahad Surah कुरआन मजीद के 30वें पारा में मौजूद है। इसमें 4 आयतें हैं। 

कुरान मजीद में कुल हुवल्लाहू अहद सूरह  का नाम, सूरह अल-इखलास है जिसका मतलब होता है:" सिर्फ बही अल्लाह जिस पर ऐसे ईमान लाना कि उस अल्लाह की  मौजूदगी और अच्छाईयो में किसी और को साझेदार न किया गया हो।"

"अल्लाह ही इबादत के लायक है उसके अलावा और कोई इबादत के लायक नहीं, इसी को तौहीदे खालिस कहते हैं।"

surah-al-ikhlaas-image

दोस्तों, Surah Ikhlas Hindi Me पढ़ने पर 1/3 (एक तिहाई) कुरान मजीद पढ़ने का सवाब मिलता है। 

तो हमें चाहिए की हम इस सूरह इखलास को खूब कसरत और दिल से याद करके रोजाना पढ़ने की आदत डाल लें जिससे हम अल्लाह की रहमत हासिल कर सकें।

नीचे हमने उन सभी दोस्तों के लिए सूरह इखलास को उपलब्ध कराया है जिनको हिंदी, इंग्लिश या अरबी आती है। आप अपने हिसाब से इस सूरह को पढ़ सकते है

हमने नीचे इससे जुड़ी सभी जानकारी जैसे कि सूरह इखलास पीडीऍफ़, सूरह इखलास mp3 और सूरह इखलास की फ़ज़ीलत भी मौजूद कराई है।

उम्मीद है आपको पसंद आएगी।

यह भी देखिए – Surah Ar Rahman Transliteration

Surah Ikhlas in Hindi Text Read Online



बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम

कुल् हुवल्लाहु अ-हद (1)

अल्लाहुस्स-मद् (2)

लम् यलिद् व लम् यूलद् (3)

व लम् यकुल्लहू कुफुवन् अ-हद (4)


Qul Huwallahu Ahad Surah in Hindi With Tarjuma


(सूरह इखलास हिंदी में तर्जुमा संग)


बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम
अल्लाह के नाम से जो रहमान व रहीम है

कुल् हुवल्लाहु अ-हद (1)
(ऐ रसूल) तुम कह दो कि ख़ुदा एक है (1)

अल्लाहुस्स-मद् (2)
ख़ुदा बरहक़ बेनियाज़ है (2)

लम् यलिद् व लम् यूलद् (3)
न उसने किसी को जना न उसको किसी ने जना, (3)

व लम् यकुल्लहू कुफुवन् अ-हद (4)*
और उसका कोई हमसर नहीं (4)

Qul Huwallahu Ahad Surah Hindi Image


surah-al-ikhlaas-hindi-image

Qul Huwallahu Ahad Surah in Hindi Pdf Download


मेरे प्यारे दीनी भाइयों और बहनों जैसा की आपने ऊपर सूरह अल इखलास को हिन्दी में तर्जुमा के साथ पढ़ा ही होगा। साथ ही साथ आपने Qul Huwallahu Ahad Surah की Hindi Image भी देखी होंगी।

यहाँ हमने Qul Huwallahu Ahad Surah Hindi Pdf  उपलब्ध करायी है आप आसानी के साथ सूरह अल इखलास की पीडीऍफ़ को डाउनलोड कर सकते है।


Qul Huwallahu Ahad Surah in Roman English Transliteration


Bismillahir rahmanir rahim

Qul huwa l-lahu ’ahad(un) [1]
Say: He is Allah, the One and Only;

allahus-samad(u) [2]
Allah, the Eternal, Absolute;

Lam yalid walam yulad [3]
He begetteth not, nor is He begotten;

Walam yaku n-lahu kufuwan ’ahad(un) [4]
And there is none like unto Him.



Surah Al-Ikhlaas English Image

surah-al-ikhlaas-english-image

Qul Huwallahu Ahad Surah in English Pdf Download


मेरे प्यारे दीनी भाइयों और बहनों जैसा की आपने ऊपर सूरह अल इखलास को इंग्लिश में तर्जुमा के साथ पढ़ा ही होगा। साथ ही साथ आपने Qul Huwallahu Ahad Surah की English Image भी देखी होंगी।

यहाँ हमने Qul Huwallahu Ahad Surah English Pdf उपलब्ध करायी है आप आसानी के साथ सूरह अल इखलास की पीडीऍफ़ को डाउनलोड कर सकते है।

Qul Huwallahu Ahad Surah in Arabic with Urdu Tarjuma


بِسْمِ ٱللَّهِ ٱلرَّحْمَٰنِ ٱلرَّحِيمِ‎

قُلْ هُوَ ٱللَّهُ أَحَدٌ ۝‎
کہو کہ وہ (ذات پاک جس کا نام) الله (ہے) ایک ہے

ٱللَّهُ ٱلصَّمَدُ ۝‎
معبود برحق جو بےنیاز ہے

لَمْ يَلِدْ وَلَمْ يُولَدْ ۝‎
نہ کسی کا باپ ہے اور نہ کسی کا بیٹا

وَلَمْ يَكُن لَّهُۥ كُفُوًا أَحَدٌۢ ۝‎
اور کوئی اس کا ہمسر نہیں


यह भी देखिए – Surah Yaseen Transliteration

Surah Al-Ikhlaas Arabic Image

surah-al-ikhlaas-arabic-image

Surah Al-Ikhlaas in Arabic Pdf Download


मेरे प्यारे दीनी भाइयों और बहनों जैसा की आपने ऊपर सूरह अल इखलास को अरबिक में तर्जुमा के साथ पढ़ा ही होगा। साथ ही साथ आपने Qul Huwallahu Ahad Surah की Arabic Image भी देखी होंगी।

यहाँ हमने Qul Huwallahu Ahad Surah Arabic Pdf उपलब्ध करायी है आप आसानी के साथ सूरह अल इखलास की पीडीऍफ़ को डाउनलोड कर सकते है।

Qul Huwallahu Ahad Surah Youtube Video with Translation




Surah Ikhlaas Mp3 or Audio Download


मेरे प्यारे भाइयों और बहनों जैसा की आपने इस पोस्ट में Qul Huwallahu Ahad Surah को सभी भाषाओं में टेक्स्ट और इमेजेज के जरिये पढ़ा ही होगा।

लेकिन अगर आप सूरह सुनना पसंद करते है, जिससे आपने दिल और दिमाग को आराम मिलता है।

तो उसके लिए हमने नीचे इस सूरह इखलास की Mp3 डाउनलोड करने का आप्शन दिया है आप आसानी के साथ इसे डाउनलोड कर सकते हैं।

Surah Ikhlas Ki Fazilat Hindi Me


कई हदीसों में रसूल अल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने सूरह इखलास की अहमियत बयान की थी ।

हमें सूरह इखलास का तर्जुमा पढ़कर ही मालूम हो जाता है की इस सूरह में तौहीद ब्यान किया गया है।




नबी करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने सहाबा से फ़रमाया कि:- तुम लोगो में से किसी के लिए ये मुमकिन है कि कुरान का एक तिहाई हिस्सा एक रात में पढ़ सके

सहाबा को ये अमल मुश्किल लगा तो उन्होंने फ़रमाया:- रसूल अल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम हम में से कौन इतनी ताक़त रखता है जो कुरान का एक तिहाई हिस्सा एक रात में पढ़ सके

तो नबी करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फ़रमाया:- सूरह इखलास कुरान का एक तिहाई हिस्सा है। (यानि इसके पढने पर एक तिहाई कुरान के पढ़ने का सवाब मिलेगा)

हमारे नबी करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फ़रमाया:- "जो शक़्स सूरह इखलास 10 बार पढ़ता है उसके लिये अल्लाह ताला जन्नत में एक घर बना देता है।"

नबी-ए-करीम (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने फ़रमाया:- "तुम्हारी सूरह इखलास के साथ मोहब्बत (यानि इसकी हर एक आयात पर पूरा इमान लाना) तुमको जन्नत में दाखिल कर देगा।" (सहीह मुस्लिम, 813)

Some Questions and Answers about Surah Ikhlas Hindi Me


Q 1. Which is Surah Ikhlas?

Ans. कुरान के 30वें पारा में, 112वीं सूरह, सूरह इखलास के नाम से मौजूद है। इसे सूरह तौहीद (Surah Tauheed) के नाम से भी जाना जाता है।


Q 2. What is the meaning of Surah Ikhlas in Urdu?

Ans. सूरह इखलास का उर्दू मतलब होता है "तौहीद"। यानी सिर्फ एक अल्लाह पर ईमान लाना वही एक अल्लाह है, जो इबादत के लायक है। उसके सिबा को भी इबादत के लायक नहीं।


Q 3. What is Surah Ikhlas English?

Ans. सूरह इखलास का इंग्लिश में मतलब होता है “Fidelity” or “Sincerity”.


Q 4. What is the reward of reciting Surah Ikhlas?

Ans. सूरह इखलास की एक बार तिलावत करने पर, एक तिहाई कुरआन पढ़ने के बराबर सवाब मिलता है। अगर हम सूरह इखलास की हर एक आयत पर ईमान लाते है तो इंशाअल्लाह अल्लाह हमें जन्नत नसीब फरमाएगा।


Q 5. What is the reward of reciting Ikhlas 3 times?

Ans. सूरह इखलास की एक बार तिलावत करने पर, एक तिहाई कुरआन पढ़ने के बराबर सवाब मिलता है। तो अगर हम सूरह इखलास को 3 बार पढ़ते हैं तो हमे एक कुरान पढ़ने के बराबर सवाब मिलेगा।

रमजान मुबारक में यही सवाब बढ़कर 70 गुना हो जाता है। लिहाजा अगर आप रमजान में हर फ़र्ज़ नमाज़ के बाद तीन बार पढ़ते हैं तो आपको एक दिन में 350 बार कुरान पाक पढ़ने का सवाब हासिल होगा। इंशाअल्लाह


दोस्तों आपको ये पोस्ट पसंद आई हो तो आगे जरूर भेजें आपके ऐसा करने से लोगों को सूरह अल फलक की फ़ज़ीलत मालूम होगी।


Tags:- Surah Al Ikhlas In Hindi | सूरह इखलास हिंदी में | Qul Huwallahu Ahad Surah in Hindi | Surah Al Ikhlas Hindi Me | Surah Ikhlas ki Fazilat
NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post
NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post